Register

If this is your first visit, please click the Sign Up now button to begin the process of creating your account so you can begin posting on our forums! The Sign Up process will only take up about a minute of two of your time.

Page 3 of 71 FirstFirst 123451353 ... LastLast
Results 21 to 30 of 710
Like Tree6Likes

Thread: " मेरे जज्बात "

  1. #21
    Thakur Shahab's Avatar
    Thakur Shahab is offline Senior Member
    Join Date
    Aug 2012
    Location
    तन्हाईयों मे
    Posts
    2,568
    थोड़ी मोहब्बत थोड़ी नफरत दिल में रखता हूँ के कहीं इंसानों से जुदा न हो जाऊँ !!
    दिन में दो चार गुनाह जरूर कर लेता हूँ इस डर से के कहीं मैं "ख़ुदा" न हो जाऊँ!!

  2. #22
    Thakur Shahab's Avatar
    Thakur Shahab is offline Senior Member
    Join Date
    Aug 2012
    Location
    तन्हाईयों मे
    Posts
    2,568
    इश्क़ भी कीजिये और अश्क भी छुपाते रहिये !!
    ज़ख्म भी खाइये और शायरी मेरी गुनगुनाते रहिये !!

  3. #23
    Thakur Shahab's Avatar
    Thakur Shahab is offline Senior Member
    Join Date
    Aug 2012
    Location
    तन्हाईयों मे
    Posts
    2,568
    अब यह चुप हैं कभी यहाँ से लफ़्ज़ों का दरिया बहता था !!
    अब उड़ती है ख़ाक इस दिल में, कभी यहाँ पे आशिक़ी का मौसम रहता था !!

  4. #24
    Thakur Shahab's Avatar
    Thakur Shahab is offline Senior Member
    Join Date
    Aug 2012
    Location
    तन्हाईयों मे
    Posts
    2,568
    जिन्दा रह, साथ रह, शायरी के रंगो मे तुझे घोलता जाऊंगा !!
    एहसास है , तु है , तेरी चाहत है , हर वक्त तुझे चाहते जाऊंगा !!

  5. #25
    Thakur Shahab's Avatar
    Thakur Shahab is offline Senior Member
    Join Date
    Aug 2012
    Location
    तन्हाईयों मे
    Posts
    2,568
    कांच का रास्ता जैसी थी ज़िन्दगी मेरी और हर तरफ आग की रोशनाई थी !!

    वक़्त ने लूट ली मेरी तमन्नाएं भी, वरना हर आरज़ू हमने दुल्हन की तरह सजाई थी !!

  6. #26
    Thakur Shahab's Avatar
    Thakur Shahab is offline Senior Member
    Join Date
    Aug 2012
    Location
    तन्हाईयों मे
    Posts
    2,568
    Quote Originally Posted by Thakur Shahab View Post
    गुलाब का फूल हूँ कभी अपने बालों में भी सजाओ मुझे !!
    रोज़ बिकता हूँ तेरे शहर के बाजार में एक उम्मीद लिए के कभी तुम भी ख़रीद लाओ मुझे !!



    कांच का रास्ता जैसी थी ज़िन्दगी मेरी और हर तरफ आग की रोशनाई थी !!
    वक़्त ने लूट ली मेरी तमन्नाएं भी, वरना हर आरज़ू हमने दुल्हन की तरह सजाई थी !!
    है दीवानों सा हाल मेरा तेन्हाई से सर पटकता रहता हूँ ...... खुद से ही बातें करता हूँ तेरी याद़ो में भटकता रहता हूँ !!


    "PriNce Thakur"

  7. #27
    Thakur Shahab's Avatar
    Thakur Shahab is offline Senior Member
    Join Date
    Aug 2012
    Location
    तन्हाईयों मे
    Posts
    2,568
    मेरे लफ़्ज़ों ने तो तेरी तस्वीर बनाई है ..... शक्ल तो आप के ज़हन में भी होगी कोई!

  8. #28
    Thakur Shahab's Avatar
    Thakur Shahab is offline Senior Member
    Join Date
    Aug 2012
    Location
    तन्हाईयों मे
    Posts
    2,568
    यूँ तो खामोश रहती हैं मेरी आँखें.... अगर समझ सको तो बहुत कुछ कहती है मेरी आँखें !! 📝📝📝📝📝📝📝

  9. #29
    Thakur Shahab's Avatar
    Thakur Shahab is offline Senior Member
    Join Date
    Aug 2012
    Location
    तन्हाईयों मे
    Posts
    2,568
    मुझे मालूम था अंजाम-ऐ-इश्क़ ..... होश-ऐ-जवानी में ज़िंदगी बरबाद कर बैठे "प्रिंस" !! 📝📝📝📝📝

  10. #30
    Thakur Shahab's Avatar
    Thakur Shahab is offline Senior Member
    Join Date
    Aug 2012
    Location
    तन्हाईयों मे
    Posts
    2,568
    हर सांस पर उसका नाम लेता हूँ , आज कल मैं खुद से इन्तेक़ाम नहीं लेता हूँ !!


    ज़माना है के रंजिशों पर उतरा हुआ , और मैं हूँ के मोहब्बत से काम लेता हूँ !!!

    📝📝📝📝📝📝📝


Page 3 of 71 FirstFirst 123451353 ... LastLast

Posting Permissions

  • You may not post new threads
  • You may not post replies
  • You may not post attachments
  • You may not edit your posts
  •  
All times are GMT +5.5. The time now is 10:12 AM.
Copyright © 2017 vBulletin Solutions, Inc. All rights reserved.
Copyright 2013 Shayari.in