इस डर से कभी गौर से नहीं देखा तुझे,
कहीं इन्ही बातों-बातों में,
तुमसे मोहब्बत ना हो जाये ।
Source : Sad Shayari