सुना है! साहिल से टकरा के मौजें लौट जाती हैं..
मैंने! साहिल को ही अपना घर बना लिया..
ओड़ ली! चादर समंदर की..
और मौजों कोअपना हमसफ़र बना लिया..|
Shuna hai! sahil se takra k mujen laut jaati hai..
Maine! sahil ko hi apna ghar bana liya..
Oodh li chdar samandar ki..
Aur maujon ko apna hamsafer bana liya...
#ANU.