थप्पड़ों से अगर चलने लगेगी ............. ये राजनीति ,
तो वोट देना सिर्फ एक बहाना है ,
देश में गुंडागर्दी हो रही है अब सरे आम ,
फर्क सिर्फ इतना है कि "नागरिक" का दर्जा दे .......... आम आदमी का दिल कुछ देर के लिए बहलाना है ।


Anti-Voting Helpline Number ----- Issue Immediately !