आशमॉ मे जुगनु अफ्ताब हो गये |
नाली के कीडे भी कामयाब हो गये |
बागवॉ के मालिक को पता ही नही |
कब बेहाये के फुल गुलाब हो गये |